कश्मीर बनाया जा रहा है उत्तर प्रदेश, 346 हिन्दू परिवारों को करना पड़ा पलायन

1488

शामली: उत्तर प्रदेश के शामली में बीजेपी सांसद हुकुम सिंह के दिए बयान ने राजनीतिक गलियारों में हलचल मचा दी है। हुकुम सिंह ने एक लिस्ट जारी कर दावा किया है कि शामली के कस्बा कैराना से पिछले 2 साल में 346 हिंदू परिवारों ने गुंडागर्दी के बाद यहां से पलायन किया है। हुकुम सिंह ने कहा कि हत्या के बाद परिजनों को 10 लाख रूपये आर्थिक सहायता की घोषणा के बाद आज तक किसी को भी मदद नहीं मिली है।कैराना-हिन्दू-पलायन_dolphinpost
शामली नगरपालिका में प्रेसवार्ता करते हुए सांसद हुकुम सिंह ने बताया कि कैराना से कश्मीर की तुलना में ज्यादा प्रतिशत लोगों ने पलायन किया है। हुकुम सिंह ने दावा किया कि कैराना में बदमाशों ने आतंक और भय का माहौल बना रखा है, जिसकी वजह से कैराना से व्यापारियों के साथ ही तमाम वर्गों के लोग मजबूरी वश पलायन कर रहे हैं। उन्होंने कहा था कि खासकर कश्यप समाज के लोगों को निशाना बनाकर वारदातें की जा रही हैं। उनमें अकबरपुर सुन्हेटी की महिला से गैंगरेप के बाद हत्या की घटना ताजा उदाहरण बताया था।
कैराना से 2 साल के भीतर 346 हिंदू परिवार पलायन कर चुके हैं। क्योंकि कैराना में रंगदारी न देने पर व्यापारियों की हत्या से लेकर लगातार संगीन वारदातें हो रही हैं। कैराना और आसपास क्षेत्र के गांवों में भी भय और आतंक का माहौल बना हुआ है। हुकुम सिंह के मुताबिक पंजीट गांव के 100 लोगों ने भी गांव से पलायन करने का मन बनाया हुआ है जिन्हें समझा बुझाकर रोका गया है।
कस्बे के सबसे पुराने मुले नामक व्यापारी का जिक्र करते हुए बताया कि जिसका एक लाख रूपये रोज की दुकानदारी हो वो अपना व्यापार बन्द करके रात को सामान समेट कर चला गया, क्या ये पलायन नहीं है। शामली एस.पी. विजय भूषण पर अकबरपुर सुन्हेटी की महिला से गैंगरेप के बाद हत्या की घटना में उसके परिजनों को ही आरोपी बना दिए जाने के साथ कई गंभीर आरोप लगाए।

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें
loading...