Jio का असर : आरकॉम, एयरसेल में विलय की घोषणा

1105

Jio का असर : आरकॉम, एयरसेल में विलय की घोषणा मुंबई। उद्योगपति अनिल अंबानी ने बुधवार को की कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) और एयरसेल के विलय की घोषणा की। सब्सक्राइबर बेस के साथ यह देश की तीसरी सबसे बड़ी कंपनी बन जाएगी। विलय के बाद आरकॉम के पास एयरसेल का आधा हिस्सा रहेगा, जबकि आधा हिस्सा मलेशिया स्थित एयरसेल की मालिकाना हक वाली कंपनी मैक्सिस कम्यूनिकेशन के पास रहेगा। विलय की घोषणा अनिल के बड़े भाई और भारत के सबसे अमितर व्यक्ति मुकेश अंबानी द्वारा जियो की लांचिंग के बाद आई है।

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें
Jio का असर : आरकॉम, एयरसेल में विलय की घोषणा
Jio का असर : आरकॉम, एयरसेल में विलय की घोषणा

नई कंपनी के बोर्ड में दोनों तरफ की ओर से संयुक्त रूप से प्रतिनिधित्व होगा। विलय के बाद आरकॉम की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि इस सौदे के बाद कंपनी के कर्ज में 20 हजार करोड़ रुपए की कमी आएगी। आरकॉम के सब्सक्राइबर बेस के आधार पर उसके 9.87 करोड़ ग्राहक है और वह देश की चौथी सबसे बड़ी कंपनी है। वहीं, 8.8 करोड़ ग्राहकों के साथ एयरसेल वर्तमान समय में छठी सबसे बड़ी कंपनी है।

विलय के बाद दोनों कंपनी ग्राहकों की संख्या के आधार पर तीसरे नंबर पर काबिज आइडियो को चौथे स्थान पर धकेल देगी। इस सौदे के बाद नई कंपनी के पास 22 सर्किल होंगे। इस लिहाज से वह स्पेक्ट्रम के मामले में देश की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी होगी। उपभोक्ताओं के हिसाब से एयरटेल देश की सबसे बड़ी कंपनी है, जबकि दूसरा स्थान वोड़ाफोन का है।

loading...