PM Modi ने दिखाए सख्त तेवर, पाकिस्तान के खून को पानी बनाने की तैयारी

1398

pm-narendra-modi-to-discuss-indus-water-treaty-tomorrow
PM Modi ने दिखाए सख्त तेवर, पाकिस्तान के खून को पानी बनाने की तैयारी

नई दिल्ली #UriAttack के बाद पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए भारत हर तरह के प्रयास कर रहा है। इसलिए भारत और पाकिस्तान के बीच दशकों पहले हुए सिंधु नदी समझौते पर समीक्षा की गई। सिंधु जल समझौते पर सोमवार को हुई बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी ने बदले तेवर के साथ सख्ती के संकेत दिए हैं। मोदी ने पाकिस्तान से स्पष्ट लहजे में कहा है कि खून और पानी एक साथ नहीं बह सकते।

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें

सिंधु नदी समझौते पर हो सकती है बड़ी कार्यवाई

मोदी के इन तेवरों के बाद ये कयास लगाए जा रहे हैं कि भारत सरकार जल्द ही सिंधु नदी समझौते पर बड़ी कार्यवाई कर सकती है। चर्चा इस बात की भी है कि भारत जल्द ही पाकिस्तान के साथ सिंधु जल समझौता तोड़ने का ऐलान कर सकता है। इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, विदेश सचिव एस. जयशंकर, जल संसाधन सचिव और प्रधानमंत्री कार्यालय के आला अधिकारी मौजूद थे।

क्या है सिंधु जल समझौता

सिंधु समझौता वर्ष 1960 में भारत और पाकिस्तान के बीच किया गया था। इसके जरिए पाकिस्तान को झेलम, चेनाब और सिंधु का 80 फीसदी पानी मिलता है। तब से अब तक पाकिस्तान इस पानी को धड़ल्ले से इस्तेमाल कर रहा है। पाकिस्तान के लिए इससे भी बड़ी चिंता की बात यह है कि रावी और झेलम नदियां भी भारत से होकर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में जाती हैं। अगर सिंधु नदी जल समझौता रद्द हुआ तो रावी और झेलम नदियों का पानी भी रोका जा सकता है। अगर ऐसा हुआ तो पाकिस्तान में त्राहि- त्राहि मच जाएगी।

loading...