पीएम मोदी ने सेना को दी खुली छूट – कुछ भी करो, मुझे जवानों की शहादत का बदला चाहिए

275127

नई दिल्ली। उरी हमले के बाद पाकिस्तान के खिलाफ पूरे देश का गुस्सा फूट रहा है। हर बार सिर्फ बातें होती हैं लेकिन इस बार पीएम मोदी एक्शन के मूड में है। 20 जवानों के शहीद होने के बाद आर्मी ने सख्त रुख अपना लिया है। डीजीएमओ रणवीर सिंह ने कहा कि जनरल रणबीर सिंह ने कहा कि पाकिस्तान के खिलाफ कार्रवाई कब और कहां होगी, इसका फैसला हम करेंगे।

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें
The Prime Minister, Shri Narendra Modi writes in the Visitors Book at 14 Corps HQ. , at Leh on August 12, 2014.  The Chief of Army Staff, General Dalbir Singh is also seen.
File photo

उरी हमले के बाद ही रक्षा मंत्री ने पीएम को सौंपी रिपोर्ट

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने श्रीनगर दौरे से लौटते ही सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उरी हमले की रिपोर्ट सौंपी है। जिसके बाद पीएम हाईलेवल मीटिंग की। इस बैठक में तय हुआ कि पड़ोसी के प्रति अब आक्रामक रुख अपनाए जाने की जरूरत है। बताया जा रहा है कि सरकार अब सीमा पार की नापाक कार्रवाई का हथियारों से जवाब दे सकती है। डीजीएमओ ने कहा, आर्मी जवाब जरूर देगी। वक्त और जगह भी वह खुद ही तय करेगी। हम इस तरह के हमलों का जवाब देने में सक्षम हैं। हमे सरकार की तरफ से आदेश मिल चुके हैं।

उरी हमले के बाद ही रक्षा मंत्री ने पीएम को सौंपी रिपोर्ट

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने श्रीनगर दौरे से लौटते ही सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उरी हमले की रिपोर्ट सौंपी है। जिसके बाद पीएम हाईलेवल मीटिंग की। इस बैठक में तय हुआ कि पड़ोसी के प्रति अब आक्रामक रुख अपनाए जाने की जरूरत है। बताया जा रहा है कि सरकार अब सीमा पार की नापाक कार्रवाई का हथियारों से जवाब दे सकती है। डीजीएमओ ने कहा, आर्मी जवाब जरूर देगी। वक्त और जगह भी वह खुद ही तय करेगी। हम इस तरह के हमलों का जवाब देने में सक्षम हैं। हमे सरकार की तरफ से आदेश मिल चुके हैं।

टेंट में जल गए थे 13 जवान

हमले में 18 जवान शहीद हुए हैं। एक जवान की मौत सोमवार को इलाज के दौरान हुई। 13 की मौत टेंट में लगी आग से जिंदा जलने से हुई थी। मौके पर मौजूद एक जवान के मुताबिक, आतंकी तड़के 3.30 बजे कैंप की पिछली दीवार से घुसे। 105 मिनट तक नाइट विजन से कैंप का जायजा लिया। फिर सुबह 5.15 बजे फ्यूल टैंक से डीजल भर रहे निहत्थे जवानों पर धावा बोल दिया।

 

loading...