पीएम मोदी के फैसले के बाद सड़कों पर कतरन के रूप में मिले करोड़ों रुपए के नोट

7128

लखनऊ: मोदी सरकार द्वारा 500-1000 रुपये के नोट बैन होने के बाद देश में अफरा-तफरी का माहौल है। जहां तमाम परेशानियों के बावजूद आम जनता सरकार के इस फैसले का स्वागत कर रही है वहीं कालाधन रखने वालों की जान निकल रही है। बरेली में भी कालेधन का एक बड़ा खुलासा बुधवार को देखने को मिला। यहाँ 500-1000 के कटे फटे नोट मिलने के बाद हडकंप मचा हुआ है।

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें

untitled-design-6-1

नोट उद्योगपति घनश्याम खंडेलवाल की बीएल एग्रो की फैक्ट्री के सामने मिले 

मौके पर पहुंची पुलिस और आरबीआई की टीम ने सभी कटे नोटों को अपने कब्जे में लेकर जांच में जुट गयी है। बता दें, कि ये 1000-500 के कटे नोटों को शहर के सबसे बड़े उद्योगपति घनश्याम खंडेलवाल की बीएल एग्रो की फैक्ट्री के सामने मिला हैं। मामला सीबी गंज थानाक्षेत्र के परसाखेड़ा औद्योगिक इलाके का हैं।

वहीँ कुछ लोगों के द्वारा इन नोटों को स्क्रेप के ढेर में आग लगाकर सबूत छिपाने की भी की गयी। लेकिन किसी राहगीर ने इसकी सूचना पुलिस को दे दी। कुछ लोग इन स्क्रेप नोटों को भरकर अपने साथ भी ले जा रहे है। करोड़ों रुपये की इस बड़ी खेप के मिलने के बाद हर जगह इसी बात की चर्चा हो रही है।

जानकारी के मुताबिक, मंगलवार को कालाधन रोकने के लिए मोदी सरकार ने एक ऐतिहासिक फैसला लेते हुए बड़े नोट यानी 500 और 1000 रुपए के नोट पर बैन लगा दिया। सरकार के अचानक लिए फैसले से जहाँ कालाधन रखने वालों की मुश्किलें बढीं है तो साथ में आम जनता भी त्रस्त है।

loading...