अखिलेश से बोले मुलायम – मोदी से सीखो, पीएम बनने के बाद भी मां को नहीं छोड़ा

1164

लखनऊ। उतर प्रदेश की सबसे बड़ी सियासी पार्टी सपा में चल रही घमासान ख़त्म होने का नाम नहीं ले रही। यहां रिश्ते केवल घर में ही नहीं बल्कि पार्टी में भी उलझे हुए हैं। पिछले दो दिनों में काफी उथल-पुथल मचा है। शिवपाल यादव के मंत्रिमडल से  बर्खास्त होने के बाद आज मुलायम सिंह यादव ने आज एक बैठक बुलाई थी जहाँ, अखिलेश यादव , शिवपाल और मुलायम ने एक दूसरे के ऊपर काफी आरोप लगाये। वहीं मुलायम सिंह ने बेटे अखिलेश यादव को नरेंद्र मोदी से सीख लेने को कहा है।

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें

Lucknow: Samajvadi Party supremo Mulayam Singh Yadav with Uttar Pradesh Chief Minister Akhilesh Yadav during Samajwadi Party's Three-Day Convention in Lucknow on Wednesday. PTI Photo by Nand Kumar(PTI10_8_2014_000150B)

अखिलेश यादव और शिवपाल के समर्थकों में जमकर हुई मारपीट

सोमवार को पार्टी ऑफिस में हुई मीटिंग में मुलायम ने कहा – मोदी की तरफ देखा, वे अपने समर्पण और संघर्ष से पीएम बने, एक गरीब परिवार से आए, कहते हैं मैं अपनी मां के बिना नहीं रह सकता। आज तक मां को नहीं छोड़ा। मोदी का उदाहरण देकर सपा सुप्रीमो मुलायम ने तीन दिनों में यह तीसरे भाजपा नेता का नाम लिया है। इससे पहले उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी और लालकृष्ण आडवाणी का नाम लिया था।

दो दिन पहले उन्होंने कहा था – अटल जी और आडवाणी जी के खिलाफ हम लड़ते थे, उन्होंने वे बातें नहीं कहीं, जो अब सुननी पड़ रही हैं। इतना ही नहीं यहां मुलायम ने कहा – पद मिलते ही लोगों का दिमाग खराब हो जाता है। तुम्हारी हैसियत नहीं कि तुम शिवपाल को कुछ कहो, चाचा से गले मिलो। इस बैठक  में जहाँ मुलायम सिंह यादव शिवपाल और अमर सिंह के साथ नजर आये वहीँ अखिलेश को चेतावनी भी दी।

मुलायम ने कहा – मैं शिवपाल और अमर को नहीं छोड़ सकता। शिवपाल मेहनती हैं। आम जनता के नेता हैं। जो शिवपाल कर सकते हैं और कोई नहीं कर सकता। शिवपाल के कामों को मैं कभी नहीं भूल सकता, वह अंधेरी रात में प्रचार के लिए जाता था। तुमने (अखिलेश) शिवपाल को अपमानित किया। अमर सिंह ने मुझे सजा से बचाया, हम जानते हैं कि कैसे बचाया है। 7 साल से कम की सजा न होती। पार्टी में भी नहीं था अमर, फिर भी मुझसे मेदांता में मिलने आया। अमर ने बहुतों को बचाया, एहसान फरामोश मत बनो, तुम (अखिलेश) अमर सिंह को गाली देते हो, उसने मेरी बहुत मदद की, अमर सिंह मेरा भाई है।

खबर है कि अखिलेश यादव, शिवपाल के गले मिलने के बाद दोनों में काफी बहस हुई और बात धक्का मुक्की तक पहुंच गई। इससे पहले दोनों के समर्थक आपस में भीड़ गए और दोनों में जमकर मार पीट हुई।

loading...