जापान की सरकार गाय के गोबर से चला रही है गाड़ियाँ.!

2202

जापान की सरकार गाय के गोबर से गाड़ियाँ चला रही है और हमारी सरकार गौमांस बिकवा रही है ।

ब्लॉग: कई लोग यह मानने में हिचकते हैं कि गाय के गोबर की गैस को एक वैकल्पिक ईंधन के रुप में इस्तेमाल किया जा सकता है। लेकिन जापान की टोयोटा कंपनी की फ्यूल-सेल कार ‘मिराई’ ऐसे लोगों की धारणा को पलट सकती है। कंपनी के एक ऐड के मुताबिक यह कार गाय की खाद से बनाई गई हायड्रोजन से चलती है।

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें

कंपनी ने अर्थ डे प्रमोशन के नजरिए से टोयोटा मिराई पर आधारित अपनी इस ऐड सीरीज का पहला एपिसोड रिलीज किया जिसके मुताबिक इस कार में ‘सारे फ्यूल काम कर सकते हैं’। इस ऐड के जरिए यह साबित करने की कोशिश की गई है कि कैसे गाय के गोबर से बनी खाद से हायड्रोजन गैस को अलग कर टोयोटा मिराई को चलाया जा सकता है।

कंपनी के इस ऐड का नाम ‘Fueled by Bullsh*t’ है। कंपनी जल्द ही इस कार को दुनिया भर के बाजारों में उतारने की योजना बना रही है। दरअसल इस ऐड के जरिए कंपनी ने हायड्रोजन को एनर्जी का ‘bullsh*t’ सोर्स कहने वाले आलोचकों को जवाब देने की कोशिश की है। इस ऐड को सामने लाने के पीछे कंपनी का मकसद यह बताना है कि वाकई में गाय गोबर से ही टोयोटा मिराई को पावर मिलती है।

अब आईए जानें यह टेक्नॉल्जी काम कैसे करती है। कंपनी के मुताबिक इस कार में हायड्रोजन फ्यूल सेल स्टैक के जरिए गैस जाती है और हायड्रोजन के साथ ऑक्सिजन को मिक्स करती है। इस प्रक्रिया के जरिए ऑन-बोर्ड बैटरी को चार्ज करने के लि जरूरी बिजली पैदा होती है

टोयोटा मिराई को पावर देने के लिए 114 किलोवॉट का फ्यूल सेल स्टैक और 113 किलोवॉट का इलेक्ट्रिक मोटर लगा हुआ है। हायड्रोजन और आक्सिजन के कॉम्बिनेशन से शुद्ध पानी भी बनता है, जिसे कि कार को चलाते हुए ही टेलपाइप के जरिए डंप किया जा सकता है।

टोयोटा के मुताबिक 0-100 किमी/घंटा की स्पीड यह कार 10 सेकंड में पकड़ सकती है और अच्छी ड्राइविंग कंडीशन में लगभग 550 किलोमीटर की दूरी तय कर सकती है। इसके फ्यूल टैंक को दोबारा भरने में भी सिर्फ 5 मिनट का वक्त लगता है। और तो और जापान ने गैस भरने के लिए 10 हायड्रोजन गैस स्टेशन भी बना लिए है , 2015 के अंत तक इनकी संख्या को 100 तक पहुंचाने का प्लान है।

________________________
शर्म की बात है मित्रो भगवान ने जिस देश को सबसे अधिक गाय दी । जहां गाय को माता समान माना जाता है वो देश आज गाय का मांस बिकवा रहा है और पड़ोसी जापान गाय के गोबर से गाडियाँ चला रहा है ! सोचिए मित्रो अगर भारत सरकार भी गौ ह्त्या रुकवाकर गाय के गोबर से गाडियाँ और अन्य वाहन चलाना शुरू करे तो 7 लाख करोड़ का जो कच्चा तेल हर वर्ष आयात करना पड़ता वो बच जाएगा !

अधिक से अधिक share करें

जय गौ माता वन्देमातरम !!

( यह लेख हमे हमारे पाठक रोहित ने भेजा है )

loading...