पाक मीडिया की खौफनाक साजिश, भारतीयों में दरार डालने की कर रही कोशिश

4866

पाक मीडिया नेे उड़ी हमले को भारत की एक साजिश बताने के साथ-साथ एक नई खौफनाक साजिश को अंजाम देने की कोशिश की है। यह कोशिश लोगों में दरार डालने की है।

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के उड़ी में हुए हमले को भारत की साजिश बताने वाले पाकिस्तान की मीडिया अब एक खौफनाक साजिश रचने में लगी हुई है। इसके तहत वह भारतीयों के आपसी प्रेम को खत्म करने और उनके बीच दरार डालने की कोशिश करने का काम कर रही है। यह पाकिस्तान का एक और खाैफनाक चेहरा है जो मीडिया के जरिए सामने आ रहा है।

पाक मीडिया में कहा गया है कि भारत ने उड़ी में हमला करवा कर जहां कश्मीर के हालातों से दुनिया का ध्यान भटकाने की कोशिश की है, वहीं इसके लिए पाकिस्तान को कटघरे में खड़ा कर पाक पीएम की छवि बिगाड़ने की भी कोशिश की है। पाकिस्तान के अखबार के मुताबिक संयुक्त राष्ट्र महासभा से पहले हुए इस हमले को भारत सरकार ने ही रचा था। पाकिस्तान की मीडिया ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल को इसका स्क्रिप्ट राइटर तक कह डाला हैै।

पाकिस्तान की मीडिया यहीं पर नहीं रुकी है। पाकिस्तान के एक अखबार न्यूज इंटरनेशनल ने उड़ी हमले के जरिए मुस्लिम और सिख समुदाय के बीच दरार डालने की भी कोशिश की है। इसमें लिखा है कि उड़ी में जहां रविवार को हमला हुआ वह सिख बहुल इलाका है। इसमें कहा गया है कि सिख पहले से ही खुलेतौर पर कश्मीर की जंग का खुलकर समर्थन करते रहे हैं। यही वजह है कि भारत ने उनसे बदला लेने के लिए इस तरह की कहानी गढ़ी है।

भारत ने अपनी सीमा पर दुनिया की सर्वश्रेष्ठ तकनीक का इस्तेमाल कर फेंसिंग की है। इसके बाद भी यह समझ नहीं आता है कि आखिर इन्हें पार कर आतंकी वहां कैसे घुस जाते हैं। जबकि यह फेंसिंग एलओसी पर होने वाली जरा सी हल्चल को भी पहचान जाती हैं। वहीं एक अन्य अखबार डॉन ने आरएसएस नेता राम माधव के उस बयान पर प्रतिक्रिया दी है जिसमें उन्होंने एक दांत के बदले में पूरा जबड़ा लेने की बात कही थी। उन्होंने कहा कि अहिंसा की बात करने वाले महात्मा गांधी के देश में आज हिंसा की बातों के अलावा कुछ और नहीं होता है।


loading...