तीन तलाक के पीछे की ये शर्मनाक कहानी जानकर रो देंगे आप..!

बहुत समय से एक शब्द सुनने को मिल रहा है, यूनिफार्म सिविल कोड आखिर ये  है क्या ? क्यों मुस्लिमों का एक तलाक से काम नहीं होता ? क्यों इसका विरोध करते हैं मुस्लिम मौलवी और मुस्लिम मजहब के प्रचारक ? एक जैसे क़ानून से इन मुस्लिमों के परेशानी क्या है ? क्यों मुस्लिम औरतें इस प्रथा से छुटकारा चाहती हैं ? ऐसे ही कई सवाल हैं जिनका जवाब आपको यहाँ मिलेगा..

halala

सबसे पहले बात करते हैं कुरान में प्रयोग किए गए दो शब्दों का “हलाल” और “हलाला” ? ये शब्द बहुत आम हैं लेकिन इन दोनों शब्दों का मतलब उतना ही गहरा है l जब एक मुसलमान धर्म के नाम पर निर्दोष जानवर की गर्दन काट देता है तो इसे कहते हैं हलाल, अल्लाह को खुश करने के लिए ऐसा करने के पीछे का कारण बताया जाता है l हलाल शब्द तो आपने कई बार सुना होगा पर क्या आप इस हलाल से मिलते जुलते शब्द हलाला का मतलब जानते हैं ?

इस शब्द का मतलब बहुत कम लोग जानते हैं क्योंकि ये शब्द जुड़ा है मुसलमानों के वैवाहिक जीवन और महिलाओं के खिलाफ नफरत से, नफरत भी ऐसी जिसने आज तक औरतों के जीवन में मातम का माहौल बना रखा है l मुसलमानों में 2 या 3 बीबी  रखना आम बात है लेकिन कई बार मौलवी इस क़ानून का फायदा उठा लेते हैं l

अगले पेज पर जानिए शर्म से भरा तलाक शुदा औरत को वापिस पाने का तरीका

USE YOUR ← → (ARROW) KEYS TO BROWSE

loading...
loading...
SOURCEWittyStories
SHARE