इन 5 नई खोजों से बढ़ेगी देश की ताकत, सेना बनेगी 'फौलादी'

13604
Prev1 of 2Next
Use your ← → (arrow) keys to browse

इन 5 नई खोजों से बढ़ेगी देश की ताकत, सेना बनेगी ‘फौलादी’ 

नई दिल्ली: 5 खोजें भारतीय सेना की सूरत बदल देंगीं। इन 5 खोजों से सेना को सबसे बड़ी ताकत मिलने वाली है। आज हम आपको बताएंगे कि कैसे बदलने वाली है भारतीय सेना। कैसे बढ़ने वाला है हिंदुस्तान का हौसला। कैसे बदलने वाली है भारतीय सेना?

1037171373

जी हां अब देश के दुश्मनों की खैर नहीं। हिंदुस्तान की तरफ आंख उठाकर देखने की हिमाकत करने वाले होशिय़ार हो जाएं। भारतीय सेना ऐसे ऐसे अत्याधुनिक हथियारों से लैस हो गई है। जिसने सेना की ताकत कई गुना बढ़ा दी है। आज हम आपको उन 5 खोजों के बारे में बताएंगे जिसने भारतीय सेना के हौसले को कई गुना बढ़ा दिया है। वो 5 खोज भारतीय फौजियों के लिए वरदान साबित होने वाले हैं। उन 5 खोजों की बदौलत भारतीय सेना धरती से लेकर आसमान तक का सीना चाक करने का हौसला रखती है।

भारतीय सेना नई तकनीक से लैस हो रही है। अत्याधुनिक हथियार, अत्याधुनिक साजो सामान। तकनीक ने भारतीय सेना की ताकत कई गुना बढ़ा दी है। सबसे ज्यादा रोबोटिक्स साइंस की मदद ली गई है। ऐसे ऐसे रोबोट्स आ गए हैं भारतीय सेना में जिनकी बदौलत जवानों की जान का जोखिम काफी कम हो गया है।

रोबोटिक्स साइंस ने सेना को ताकतवर बनाने में सबसे ज्यादा मदद की है। इसी की बदौलत अब सैनिकों की जान को बिना जोखिम में डाले जंग के मैदान में अपनी ताकत दिखाई जा सकती है। इस बिना ड्राइवर वाली गाड़ी को ही देख लीजिए। इस गाड़ी को रिमोट कंट्रोल से ऑपरेट किया जाता है। और जंग के मैदान में ये इतनी कारगर है कि रिमोट कंट्रोल के जरिए इस गाड़ी से रॉकेट तक दागे जा सकते हैं।

डीआरडीओ के इस नए आविष्कार को देश में ही बनाया गया है। ये ऐसा मानवरहित ऑटोनोमस हथियार है दुनिया में किसी देश के पास नहीं है। सीमा पर पेट्रोलिंग सर्विलांस से लेकर इसका इस्तेमाल जंग के मैदान में हो सकता है। भारतीय सेना में ये हथियार जल्दी ही शामिल होने वाला है। रोबोटिक्स साइंस का एक और कमाल देखिए जो सेना में जवानों की जान बचाने में अहम योगदान देने वाला है। गाड़ीनुमा ये रोबोट किसी भी तरह के बम को डिफ्यूज करने के लिए बनाया गया है।

लैंड माइन्स बिछे इलाकों में भी इनका इस्तेमाल हो सकता है। सेना के जवानों की जान बिना जोखिम में डाले दुश्मन के दांव से बचा जा सकता है। रोबोटिक्स साइंस की मदद से ऐसे ऐसे रोबोट्स बनाए गए हैं जो परमाणु बम केमिकल बम और बॉय़ोलॉजिकल बम के असर वाले इलाकों में भी काम कर सकते हैं।

आगे पढने के लिए NEXT पर क्लिक करें….

Prev1 of 2Next
Use your ← → (arrow) keys to browse

x
loading...
SHARE