रहस्य जो ताजमहल के इन दरवाजो में बंद है

ताजमहल की सच्चाई के संबध में ताजमहल के तहखानों में कई रहस्य दफन हैं, लेकिन इन रहस्यों और इतिहास पर कोई और नहीं बल्कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग (एएसआई) ही पर्दा डालने में जुटा है। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग के इस कृत्य से इस बात को जरूर बल मिलता है कि ताजमहल के दरवाजो में कई रहस्य दफ़न है और निश्चित रूप से जिस प्रकार प्रोफ़ेसर पुरुषोत्तम नाथ ओक ने अपने ताजमहल को शिव मंदिर होने की बात कही है वह कही न कही सही है और यह सच्चाई लोगो के समक्ष आना ही चाहिए।

रहस्य जो ताजमहल के इन दरवाजो में बंद है
रहस्य जो ताजमहल के इन दरवाजो में बंद है

 

जिन दरवाजों से मुगल शहंशाह किले से ताजमहल पहुंचते थे, उन्हीं दरवाजों को ईंटों से बंद कर दिया गया है। 1980 के दशक तक यहां लकड़ी का दरवाजा था। यह गेट 8 फीट ऊंचा है, लेकिन अब यह दो फीट तक रह गया है। यमुना से 18 फीट तक सिल्ट यहां जमा हो चुकी है।
Loading...
इन ← → पर क्लिक करें

loading...

Loading...
स्रोतमहाशक्ति
शेयर करें