देखिये की प्रकार इस बेगूसराय के लड़के ने कन्हैया को दिया मुहतोड़ जबाब

31036

देखिये की प्रकार इस बेगूसराय के लड़के ने कन्हैया को दिया मुहतोड़ जबाब

 इस पोस्ट के सारे शब्द इफ्फतुर रहमान के है. पढ़े क्या कहते है वे कन्हैया भाषण के बारे में . “तु आजाद नहीँ तुझे फिर से आजादी चाहिए क्या? साथ मेँ कुछ स्वार्थी नेता और मंत्री को भी आजादी चाहिए, बंद कर यह ड्रामा.बहुत हो गया यह ड्रामा बात-बात पर आजादी, आजादी, आजादी अरे नमक हरामयोँ देश द्रोहियोँ देश के दुश्मनोँ देश को आजादी दिलाने मेँ तेरे औलाद शहिद हुए होते तो आज तेरे ये शब्द सुनकर बहुत अच्छा लगता, पर तु तो एक बुंद पानी देने लायक नहीँ था रे नालायक. जब देश आजाद हुआ था, अंग्रेजोँ को भगाने के लिए वीरोँ ने अपना प्राण गंवाए तब जाकर देश को आजादी मिली.

इस बेगूसराय के लड़के ने कन्हैया को दिया मुहतोड़ जबाब
इस बेगूसराय के लड़के ने कन्हैया को दिया मुहतोड़ जबाब

उस आजादी को तु आजादी नहीँ मानता, एक से दो कौङी के लौँडे और नेता को अभी तक भारत देश मेँ गुलामी ही दिखता है. ये सब ड्रामा नहीँ तो और किया है शर्म आना चाहिए. वैसे लोगोँ को जिसने अपने आपको आजाद नहीँ मान रहा हो जिसे फिर से आजादी चाहिए.

मैँ एक आजाद भारतीय होने के नाते पुछता हुँ, क्या भगत सिँह, सुभाष चंद्र बॉस, चन्द्र शेखर आजाद, अबुल कलाम आजाद जैसे कई वीरोँ ने देश को अपनी कुर्बानी देकर आजादी दिलाया, पर कुछ को अभी भी आजादी चाहिए. क्या बित रहा होगा शहिद हुए वीरोँ पर ये सब ड्रामा देख सुनसुन कर खुन खौल उठा है.

हद तो तब हो गया इस ड्रामे को देख एक हारामखोर ड्रामे को देख खुश हो कर 2 लाख रुपये का इनाम देने का घोषणा भी कर दिया वहीँ कुछ स्वार्थी नेता वैसे लोग को अपना बेटा तक बना डाला एक नेता ने तो आजादी वाले भाषण को सुनकर सब से अच्छा भाषण बता डाला आखिर ये सब किया हो रहा है.

देश का बेटा अपना खुन बहा कर अपने आगे नेता लगाया था पर आज कुछ लोग तो देश को टुकरोँ मेँ बॉटने केलिए अपने आगे नेता लगाया है शायद मुझे ऐसा लग रहा है मित्रौँ किया आप आजाद नहीँ हैँ किया आप अपने आपको आजाद भारत मेँ गुलाम ही समझ रहे हैँ तो ऐसे समझदारी वाले लोग से देश को निश्चितरुप से खतरा है.

अभी कुछ नहीँ कहना है मुझे पर याद रखना देशद्रोहियोँ जिस दिन थोङा भी अहसास हो गया कि ऐसे लोग अपना राजनीत चमकाने केलिए देश को कमज़ोर और बदनाम करना चाहता है उस दिन से ही सर पे कफन बाँध लुँगा और देश को खतरा यदि अपनोँ से होगा तो अपने भी बख्शे नहीँ जाएँगे सर कलम कर दुँगा.

देश की रक्षा करना भारतीय नौजवानोँ का पहली प्राथमिता है मैँ शहिद हुए भारतीय वीरोँ को मायुस होने नहीँ दे सकता आपभी ड्रामेबाज पर न ध्यान देकर देश का रक्षा करेँ अगर ऐसा ही ड्रामा चलता रहा तो सचमेँ कुछ दोगले लोग आजाद भारत को गुलाम बना देगा किया आप.

मैँ अपने आजाद भारत देश को गुलाम होने देँगे अगर नहीँ तो तैयार हो जाएँ देश बचाओ अभियान मेँ आज से मेरा अभियान जारी रहेगा.”

ब्लॉग: इफ्फतुर रहमान, बेगूसराय द्वारा लिखा गया है…
उनसें संपर्क करने के लिए: https://www.facebook.com/iffaturrahmanyuva

x
loading...
SHARE