2000 करोड़ के ड्रग रैकेट केस में शामिल हैं ममता कुलकर्णी, पुलिस ने बनाया आरोपी

664

मुंबई। ठाणे क्राइम ब्रांच ने 2000 करोड़ के ड्रग रैकेट मामले में  ममता कुलकर्णी के खिलाफ भी सबूत मिलने का दावा किया है। इन सबूतों के आधार पर पुलिस ने अब ममता कुलकर्णी को भी आरोपी बनाया है। हालांकि ममता कुलकर्णी आरोपों से इनकार करती रही हैं।

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें

सोलापुर की जिस फार्मा कंपनी Avon life sciences से 2 हजार करोड़ की ड्रग्स जब्त की गई थी उस कंपनी में ममता कुलकर्णी को डायरेक्टर बनाने की कोशिश चल रही थी। दरअसल, इस अंतर्राष्ट्रीय ड्रग्स रैकेट के मामले के सामने आने के बाद यूएसए जांच एजंसियों ने ठाणे पुलिस को मदद की पेशकश की थी।

अमेरिकी एजेंसियों की जांच में सामने आया कि Avon life sciences कंपनी के बड़े अधिकारी ममता को इस फर्म में डायरेक्टर बनाने वाले थे, साथ ही ममता कुलकर्णी के रोल के बारे में भी कई सबूत यूएस एजेंसियों ने ठाणे पुलिस को सौंपे हैं। इन्हीं सबूतों के आधार पर अब पुलिस ने ममता को इस मामले में आरोपी बनाया है।

इस मामले में ठाणे क्राइम ब्रांच ने अब तक 10 लोगों को गिरफ्तार किया है। फ़िल्म अभिनेत्री ममता कुलकर्णी के पति विक्की गोस्वामी का नाम इस रैकेट में मास्टरमाइंड के तौर पर सामने आया है। इस खुलासे के बाद साथ ही और मिले सबूतों के आधार पर ममता को भी इस मामले आरोपी बनाया गया।

actress-mamta-kulkarni-detained-in-kenya-for-narcotics-case

इसे लेकर आज ठाणे पुलिस आयुक्त परमवीर सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। सिंह ने बताया कि 12 अप्रैल 2016 को 2 हजार करोड़ की ड्रग्स जब्त की गई थी।  अब तक 10 आरोपी को गिरफ्तार किया गया है।  ममता कुलकर्णी हमारे केस में आरोपी है। कोर्ट के सामने दो आरोपियों ने बयान दिया है कि केन्या में हुई मीटिंग में ममता भी थी। मीटिंग काफी देर तक चली थी। ड्रग्स को कैसे हिंदुस्तान से लाया जाए, बाजारों में कैसे बेचा जाए जैसे कई बातों पर चर्चा हुई। कंपनी के 2 करोड़ में से 11 लाख शेयर ममता के नाम पर ट्रांसफर करने पर सहमति बनी थी, इससे वो डायरेक्टर बन जाती।

सिंह ने कहा कि केन्या में जो मीटिंग हुई थी उसमें ममता कुलकर्णी, विक्की गोस्वामी औऱ कुछ और लोग थे। ये चर्चा हुई थी कि AVON LIFE SCIENCE में एफीड्रीन बनेगा और उसे मेथ में बदला जाएगा। 2 करोड़ शेयर में से 11 लाख शेयर ममता कुलकर्णी के नाम पर लिया जाएगा जिससे वो कंपनी में डाइरेक्टर हो जाएगी। करीब 23 टन एफीड्रिन यहां से अफ्रीका ट्रांसफर होने वाला था। हम ममता कुलकर्णी का नाम वेरिफाई करना चाहते थे और वो अब कंफर्म हो गया है।

8 अप्रैल को भी दुबई में एक इंपौर्टेंट मीटिंग हुई थी बुर्ज खलीफा में। वहां से इनका मोरक्को का भी लिंक सामने आता है। विक्की गोस्वामी कोलंबियन ड्रग लॉर्ड डॉ. अब्दुल्ला के टच में था, उसका अफ्रीका में खास कांटेक्ट है। कुछ फोटोग्राफ भी हमें मिले हैं और अमेरिकन डीए के लोग भी हमारे टच में हैं और उनसे मदद मिली है। करीब 100 टन की एफीड्रिन का कंसाइनमेंट करीब एक महीना पहले विक्की गोस्वामी के किसी कांटेक्ट के घर पर मुंबई में रखवाया गया था। उसके बाद उसे हवा के रास्ते ले जाया गया था।

ममता का इनकार

वहीं ममता कुलकर्णी ने सभी आरोपों से इनकार किया है। आईबीएन7 से बातचीत में ममता ने कहा कि मुझे फंसाया जा रहा है। मेरा किसी कंपनी से कोई नाता नहीं है। मेरे अकाउंट में 1 करोड़ रुपये भी नहीं हैं। पुलिस के पास मेरे खिलाफ कोई सबूत नहीं हैं। पुलिस गवाहों की पिटाई कर बयान ले रही है। 2000 करोड़ रुपये की बात आखिर कहां से आई।

loading...