हमेशा ड्यूटी पर रहते हैं पीएम मोदी, नहीं ली एक भी छुट्टी !

778

नौकरी के दौरान अगर सैलरी के बाद कर्मचारी को किसी चीज़ की सबसे ज़्यादा दरकार रहती है, तो वो है छु्ट्टी. इन छुट्टियों को पाने के लिए कई कर्मचारी बहाने मारते हैं, तो बड़े ओहदे वाले कर्मचारी इन्हें बड़े आराम से ले लेते हैं. कहने का मतलब ये है कि हर कर्मचारी के जीवन में छुट्टियों का महत्व काफी ज़्यादा होता है.

narendra-modi

लेकिन कभी आपने सोचा है कि जनता के लिए काम करने वाले नेतागण और प्रधानमंत्री छुट्टी लेते भी हैं या नहीं? शायद ऐसा सवाल आपके दिमाग में कभी न कभी आया होगा, पर सही उत्तर ना मिलने के कारण आपने उसे सोचना ही छोड़ दिया होगा. खैर, एक व्यक्ति ने ऐसा नहीं किया.

उसने इस सवाल का उत्तर ढूंढने के लिए अपने अधिकार का इस्तेमाल किया, जिसका इस्तेमाल हम सभी कर सकते हैं, वो अधिकार है RTI (Right to Informaiton). इस शख्स ने RTI के ज़रिये PMO (प्रधानमंत्री कार्यालय) से पूछा कि हमारे माननीय प्रधानमंत्री ने अपने अब तक के कार्यकाल में कितनी छुट्टियां ली हैं? इस सवाल का उत्तर यकीनन आपको चौंका देगा!

Source: thehindu

दरअसल, प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने इस RTI के जवाब में कहा है कि देश के प्रधानमंत्री हर वक्त ड्यूटी पर रहते हैं.PMO के अनुसार, पूर्व प्रधानमंत्रियों के अवकाश का रिकॉर्ड रखना इस कार्यालय का हिस्सा नहीं है. हालांकि, ये ज़रूर कहा जा सकता है कि कार्यभार संभालने के बाद से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोई छुट्टी नहीं ली है.

Source: india

अर्ज़ी देने वाला शख़्स यह भी जानना चाहता था कि ‘क्या पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, अटल बिहारी वाजपेयी, एच.डी. देवगौड़ा, इंद्र कुमार गुजराल, पीवी नरसिंह राव, चंद्रशेखर, वी.पी. सिंह और राजीव गांधी ने कार्यकाल के दौरान कोई छुट्टी ली थी. क्या इस बारे में कोई रिकॉर्ड है? पूर्व प्रधानमंत्रियों से जुड़ा कोई रिकॉर्ड PMO के पास न होने का हवाला देते हुए, उसने मौजूदा प्रधानमंत्री के संदर्भ में कहा कि ऐसा कहा जा सकता है कि ‘PM हर वक़्त ड्यूटी पर मौजूद रहते हैं’.

Source: indianexpress

इसी तरह की एक RTI अर्जी आवेदक ने कैबिनेट सचिवालय को दायर कर यह जानना चाहा कि क्या उनके पास पूर्व प्रधानमंत्रियों के अवकाश और सरकार के प्रमुख के लिए इस सिलसिले में नियमों की कोई सूचना है. इसका कोई जवाब नहीं दिया गया और अर्जी गृह मंत्रालय को भेज दी गई, जिसने इसे PMO को भेज दिया. PMO ने कहा कि उसके पास पूर्व प्रधानमंत्रियों की छुट्टी के बारे में कोई रिकॉर्ड नहीं है.

Source: timesofindia

x
loading...
SHARE