जो मैं नहीं कर पाया वो मोदी ने किया – राष्ट्रपति प्रणब मुर्खजी

36914

अगले दस-पंद्रह साल तक भारत को 10 फीसदी विकास दर की जरुरत है ताकि देश गरीबी रेखा से उपर उठे, शिक्षा, स्वास्थ्य और बुनियादी सुविधाओं को पूरा किया जा सके- राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी

president

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की योजना स्टार्ट अप इंडिया की राष्ट्रपति प्रणब मुर्खजी ने तारीफ की है, उन्होने कहा कि भारत इस पर देर से जागा है, बिलंब के लिए उन्होने खुद को भी जिम्मेवार बताया और कहा कि वो खुद भी प्रशासन में रहे है। राष्ट्रपति ने कहा कि भारत को अगले 15 साल दस फीसदी की दर से लगातार विकास करने की आवश्यकता है, ताकि गरीबी और स्वास्थ्य सुविधाएं जैसे मुद्दों का समाधान किया जा सके।स्टार्ट अप अभियान का जिक्र करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि आप में से कई लोगों ने सही कहा है कि इस अभियान से नए उद्यमी आत्मविश्वास महसूस कर रहे है, ये सरकार का काम है कि उद्यिता बढ़ाने के लिए माहौ बनाएं, हमने थोड़ा टाइम लिया लेकिन हम जाग गए है, इस अभियान का मुख्य मकसद निचले स्तर की उद्यमिता को बढ़ावा देना है। इस योजना में देरी पर राष्ट्रपति ने कहा कि मैं किसी को इसके लिए जिम्मेदार नहीं ठहरा सकता, मुझे खुद जिम्मेदारी लेनी होगी, मैं खुद काफी समय तक प्रशासन में रहा हूं, गौरतलब है कि प्रणब मुखर्जी यूपीए सरकार में वित्त मंत्री की भूमिका में थे।

loading...