सर्जिकल स्ट्राइक के बाद PM मोदी का 24 अक्टूबर को काशी दौरा, भव्य स्वागत की तैयारी

122

वाराणसी: सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पहली बार पीएम नरेंद्र मोदी 24 अक्टूबर को अपने संसदीय क्षेत्र काशी पहुंच रहे है। पीएम मोदी के प्रोग्राम को लेकर प्रारंभिक प्रोटोकॉल आ चुका है। जिसके बाद पार्टी के नेता और जिला प्रशासन तैयारी में जुट गया है। इस प्रोग्राम का आयोजन डीरेका के खेल मैदान में होगा। खेल मैदान में जर्मन हेंगर बनाने की तैयारी शुरू हो गई है। पीएम इस बार काशी और पूर्वांचल की जनता को एक साथ कई सौगात देंगे।

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें
pm-modi-8
सर्जिकल स्ट्राइक के बाद PM मोदी का 24 अक्टूबर को काशी दौरा, भव्य स्वागत की तैयारी

पीएम मोदी के भव्य स्वागत की तैयारी में जुटा प्रशासन 
-मेयर रामगोपाल मोहले ने बताया कि सुरक्षा और टेंट की जिम्मेदारी जिला प्रशासन और अन्य सेना के अधिकारियों की है।
-मेयर ने बताया कि इस बार पीएम मोदी सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पहली बार बनारस आ रहे हैं।
-पीएम मोदी के नेतृत्व में जिस तरह से भारतीय सेना ने पाकिस्तान को करारा जवाब दिया इसके लिए पूरे शहर की भव्य सजावट करके पीएम का शानदार स्वागत किया जाएगा।
-कमिश्नर नितीन रमेश गोंकर्ण ने अधिकारियों को पीएम की सुरक्षा को लेकर चेताया कि किसी भी तरह की कोई चूक न हो।

22-23 अक्टूबर को काशी में होगा स्वच्छता अभियान 
-काशी क्षेत्र के प्रभारी संजय भारद्वाज ने बताया कि पीएम के आगमन को लेकर काशी प्रांत के सभी संगठनों के साथ बैठक कर रणनीती बनाई जा रही है।
-संजय ने बताया कि बैठक में तय किया गया कि पीएम के आने से पहले पूरे नगर को सजाया जाएगा और स्वच्छता अभियान 22 और 23 अक्टूबर को चलाया जाएगा।

प्रोग्राम में 20,000 लोगों के बैठने की व्यवस्था 
-डीरेका के ग्राउंड की क्षमता 35,000 हजार है, लेकिन सुरक्षा के मद्देनजर 20 हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था की जा रही है।
-पीएम मोदी जिस मंच पर बैठेंगे उसका साइज 60 बाई 40 रखा गया है।
पीएम मोदी देंगे ये सौगात
-पीएम मोदी मंडुआडीह से इलाहाबाद सिटी तक रेलवे ट्रैक दोहरीकरण की सौगात देंगे।
-इसके साथ ही दूसरे ट्रैक के विद्युतीकरण का भी शिलान्यास करेंगे।
-इस प्रोजेक्ट के लिए रेल विकास निगम लिमिटेड ने तैयारी शुरू कर दी है।
-पीएम मोदी डीरेका के उत्पादन विस्तारीकरण के प्रथम चरण का भी उद्घाटन करेंगे।
-इसमें रेल इंजन निर्माण क्षमता 200 से बढ़ाकर 250 की गई है।
-नरेंद्र मोदी ने पीएम बनने के बाद 25 दिसंबर 2014 को काशी आगमन पर इसका शिलान्यास किया था।
-उद्धाटन के लिए डीरेका ने पीएमओ को प्रस्ताव भेज दिया है।

डीजल और बिजली से चलने वाले रेल इंजन का भी उदघाटन
-अधिकारियों के मुताबिक, माधोसिंह दारागंज होते हुए पूर्वोत्तर रेलवे के अधीन लगभग 120 किमी. के इस ट्रैक के दोहरीकरण पर 746 करोड़ रुपए की लागत से पूरा किया जाएगा।
-इसे तीन साल में पूरा करने का लक्ष्य है।
-पुराने ट्रैक पर पहले से विद्युतीकरण हो रहा है।
-उत्तर रेलवे के भदोही-जंघई-इलाहाबाद ट्रैक का दोहरीकरण अंतिम दौर में है।
-डीजल और बिजली से चलने वाले रेल इंजन का भी पीएम मोदी उदघाटन करेंगे। जिसे डीरेका में तैयार किया गया है।

loading...