जानिए कैसा होता है पाकिस्तान में हिन्दू होना, एक रूह कंपाने वाला सच – पढ़े पूरी खबर…

2563

भारत के बँटवारे में साफ बोला गया था कि जो हिन्दू पाकिस्तान में रहना चाहते हैं रह सकते हैं और इसी तरह से जो मुस्लिम भारत में रहना चाहते हैं रह सकते हैं. भारत के मुस्लिम लोगों को आरक्षण मिला हुआ है और साथ ही साथ हज जैसी सुविधायें भी इनको समय-समय पर मिलती रहती है. ऐसा भारत इसलिए कर रहा है क्योकि यह मुस्लिम भी अपने हैं और इनका विकास भी भारत कर सकता है.

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें

लेकिन आज के वो हिन्दू जो पाकिस्तान में रह रहे हैं उनकी जिंदगी नर्क बनी हुई है. पाकिस्तान में रह रहे हिन्दुओं की संख्या में तेजी से गिरावट आ रही है. पाकिस्तान में 1947 में कुल आबादी का 25 प्रतिशत हिंदू थे. अभी इनकी जनसंख्या कुल आबादी का मात्र 1.6 प्रतिशत रह गई है. आजादी के वक़्त पाकिस्तान में कुछ 500 हिन्दू मंदिर थे लेकिन आज सही स्थिति में कुछ 30 मंदिर ही बचे हैं.

तो अब खुद पाकिस्तान के रहने वाले हिन्दू भारत आकर बताते हैं कि पाकिस्तान में हिन्दू जैसे नर्क में रह रहे हैं. तो आइये आपको बताते हैं कि पाकिस्तान के हिन्दु किस हाल में है –

1. लड़कियों और महिलाओं का कभी भी कोई कर देता है रेप

हिन्दू लड़कियां तो यहाँ जैसे किसी तालिबानी देश में अपना जीवन गुजर कर रही हैं. कभी भी कोई मुस्लिम आता है और हिन्दू लडकियों के साथ बलात्कार कर देता है. रेप के बाद पुलिस इसलिए केस दर्ज नहीं करती है क्योकि इनको लगता है कि हिन्दू इनके देश को बदनाम कर रहे हैं.

पाकिस्तान के रहने वाले हिन्दू

2. हिन्दुओं को किराए पर घर नहीं मिलते हैं

पाकिस्तान के हिन्दु को पाक में आसानी से किराये के घर तक नहीं मिलते हैं. हिन्दुओं को यहाँ ऐसा समझा जाता है कि जैसे यह लोग पाक के मूल नागरिक नहीं होकर भिखारी हैं. आपको जानकर हैरानी होगी कि हिन्दू यहाँ घर लेने के लिए धर्म परिवर्तन तक करते हैं.

पाकिस्तान के रहने वाले हिन्दू

3. नहीं मिलती हिन्दुओं को नौकरियां

एक सच्चाई पाकिस्तान के हिन्दुओं के बारें में यह भी है कि हिन्दू होने पर पाक के लोग इनको नौकरियां नहीं देते हैं. नौकरी के लिए शर्त यह होती है कि आपको इस्लाम कबूल करना ही होगा. इसलिए हिन्दुओं को जबरन इस्लाम कबूल करना पड़ रहा है.

पाकिस्तान के रहने वाले हिन्दू

4. पूजा स्थलों को जलते हुए देखना

इससे दुःख भरा पल इन पाकिस्तानी हिन्दुओं के लिए कुछ नहीं होता है जब वह अपनी आँखों से अपने पूजा स्थल को जलते हुए देखते हैं. कल तक जहाँ पूजा-आरती होती थी वहां कोई भी आता है और आग लगा देता है. पुलिस और प्रशासन इस मामले में दखल नहीं देता है.

पाकिस्तान के रहने वाले हिन्दू

5. कभी भी मार दिए जाते हैं हिन्दू

पाकिस्तान में हिन्दुओं का मर्डर जैसे कि एक खेल है. हिन्दू हो तो आपको कोई भी कभी भी जान से मार सकता है. ह्यूमन राइट्स लॉ नेटवर्क की एक रिपोर्ट के मुताबिक 1965 से लेकर अब तक तकरीबन सवा लाख पाकिस्तानी हिन्दुओं ने भारत की तरफ पलायन किया है. हाल ही में पाक के अन्दर हिन्दू डाक्टर को गोली मारी गयी है.

पाकिस्तान के रहने वाले हिन्दू

6. हिन्दुओं को पाकिस्तान से भगा देना चाहते हैं पाक मुस्लिम

अपनी जमीन और घर छोड़कर कैसे भी कैसे बस हिन्दू भारत भाग जाए, इसी उद्देश्य के साथ पाक के हिन्दुओं को परेशान किया जाता है. पाकिस्तान के स्कूलों में जबरन इस्लाम की शिक्षा दी जाती है. बच्चों के लिए यहाँ सही तरह के स्कूल तक नहीं है.

पाकिस्तान के रहने वाले हिन्दू

तो इस तरह से पाकिस्तान के हिन्दु के लिए पाकिस्तान नर्क बना हुआ है. पाकिस्तान के रहने वाले हिन्दू जैसे कि नर्क में जिंदगी जीने को मजबूर हैं. यकीन मानिये पाकिस्तान में हिन्दू होने का अर्थ कुछ ऐसा है जैसेकि सड़क पर कोई भिखारी होता है. भिखारी से भी बुरी स्थिति में पाकिस्तान के रहने वाले हिन्दू जीवन गुजर कर रहे हैं.

loading...