नवीन जिंदल पर आरोप तय, कोयला घोटाले में हो सकती है 10 साल तक की सजा

384

नवीन जिंदल पर आरोप तय, कोयला घोटाले में हो सकती है 10 साल तक की सजा–> कोयला घोटाले में नवीन जिंदल पर आरोप तय हो गए हैं। स्पेशल कोर्ट ने जेएसपीएल के चेयरमैन नवीन जिंदल को सेक्शन 120 (बी) और 409 के तहत आपराधि‍क साजि‍श का आरोपी पाया है। इतना ही नहीं, पटयाला हाउस कोर्ट ने पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोडा और दसारी नारायण राव समेत सभी 15 आरोपि‍यों के खि‍लाफ आरोप तय कि‍ए गए हैं। सेक्शन 409 के तहत 10 साल तक की सजा का प्रावधान है।

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें
नवीन जिंदल पर आरोप तय, कोयला घोटाले में हो सकती है 10 साल तक की सजा
नवीन जिंदल पर आरोप तय, कोयला घोटाले में हो सकती है 10 साल तक की सजा

विशेष सीबीआई जज भरत पराशर ने कहा कि सभी आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 120 (आपराधिक साजिश) साथ में 409 और 420 और भ्रष्टाचार निवारक कानून की धारा 13(1)(सी), 13(1)(डी) के तहत आरोप तय किए जाएं। अदालत ने हालांकि कहा कि आरोपियों के खिलाफ औपचारिक तौर पर आरोप बाद में तय किए जाएंगे।

यह भी पढ़े : विदेशी प्रत्यक्ष निवेश को आकर्षित करने के मामले में भारत ने चीन को पछाड़ा

जिंदल और राव के अलावा अदालत ने झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा, पूर्व कोयला सचिव एच सी गुप्ता तथा 11 अन्य के खिलाफ मुकदमा चलाने का निर्देश दिया है। सीबीआई ने 2008 में अमरकोंडा मुर्गादंगल कोयला ब्लाक के जिंदल स्टील एंड पावर लि. तथा गगन स्पॉन्ज आयरल इंडिया प्राइवेट लि. को आवंटन में कथित अनियमितता के लिए आरोपपत्र दायर किया था।

यह भी पढ़े :432 करोड़ रु की लागत से एकीकृत विद्युत विकास योजना के तहत भूमिगत केबल बिछाने का कार्य शुरू

इनके अलावा अन्य आरोपी हैं, जिंदल रीयल्टी प्राइवेट लि. के निदेशक राजीव जैन, जीएसआईपीएल के निदेशक गिरीश कुमार सुनेजा तथा राधा कृष्ण सर्राफ, न्यू दिल्ली एक्जिम प्राइवेट लि. के निदेशक सुरेश सिंघल, सौभाग्य मीडिया लि. के प्रबंध निदेशक के रामकृष्ण प्रसाद तथा चार्टर्ड अकाउंटेंट ज्ञान स्वरूप गर्ग। ये आरोपी फिलहाल जमानत पर हैं। साथ ही पांच कंपनियां जेएसपीएल, जिंदल रीयल्टी प्राइवेट लि. गगन इन्फ्राएनर्जी लि., सौभाग्य मीडिया लि. तथा न्यू दिल्ली एक्जिम प्राइवेट लि. भी इस मामले में आरोपी हैं।

इस बीच, अदालत ने सुरेश सिंघल की माफी तथा वादामाफ गवाह बनने की याचिका पर सीबीआई तथा 14 आरोपियों को नोटिस जारी किया है। सीबीआई ने 1993-2005 की अवधि में कोयला खानों के आवंटन घोटाले की जांच के सिलसिले में जिंदल स्टील एंड पावर लि. और कुछ अन्य के खिलाफ कथित धोखाधड़ी तथा भ्रष्टाचार का मामला पिछले साल अक्‍टूबर में भी दर्ज किया था। यह मामला मामला गारे पाल्‍मा 4/1 कोयला ब्लॉक जिंदल स्ट्रिप्स लि. तथा जेएसपीएल को आवंटित किए जाने से जुड़ा था।

loading...