सेना को मोदी सरकार देगी दीपावली का गिफ्ट !

MODI SARKAR ने ARMY को अंतरिम भुगतान का शानदार दिपावली गिफ्ट दिया है। अब जवानों की दिपावली दिल से मनेगी।

उधर, डिफेंस चीफ और सरकार आर्म्ड फोर्सेज के लिए नए पे ग्रेड पर चल रहा विवाद निपटाने में लगे हुए हैं। इकनॉमिक टाइम्स ने 10 अक्टूबर को जारी रक्षा मंत्रालय मनोहर पर्रिकर के ऑर्डर को देखा है।
इसमें कहा गया है कि पे कमीशन का नोटिफिकेशन पेंडिंग होने के चलते प्रेजिडेंट ने उनके लिए अस्थायी तौर पर बकाया भुगतान को मंजूरी दी है। सभी जवानों को मिलने वाला बकाया उनकी मौजूदा सैलरी (डीए सहित) का 10 पर्सेंट होगा, जिसकी गणना जनवरी 2016 के बाद से होगी।
modi-army
बोनस के तौर पर मिलेगी एक महीने की सैलरी
इसका मतलब सभी रैंक के जवानों को बोनस के तौर पर एक महीने की पूरी सैलरी मिलेगी। कोशिश की जा रही है कि जवानों को यह रकम दिवाली से पहले मिल जाए। इस साल दिवाली 30 अक्टूबर को है।
बकाया अभी तक नहीं मिला
सिविल सर्विसेज के उलट आर्म्ड फोर्सेज को पे कमीशन की वजह से बकाया अभी तक नहीं मिला है। उनके लिए नया सैलरी स्केल भी अभी तक लागू नहीं हुआ है। बकाया भुगतान में देरी फोर्सेज के लिए कमीशन के कंपनसेशन स्ट्रक्चर की विसंगतियां दूर करने के मामले में तीनों सेनाओं के प्रमुखों के दखल की वजह से हुई है।
क्या कहते हैं सेना प्रमुख
सेना प्रमुखों ने कहा है कि जब तक डिसेबिलिटी पे और पेंशन के मामले में विसंगतियों को ठीक नहीं किया जाता, तब तक पे कमीशन की सिफारिशें उन्हें मंजूर नहीं हैं।
हफ्ते भर पहले खबर थी कि त्योहारी सीजन से पहले अडिशनल पेमेंट नहीं मिलने के आसार को देखते हुए सशस्त्र बलों के सेवारत और सेवानिवृत जवान और अधिकारी निराश हैं। सरकार एकमुश्त बकाया भुगतान करने का ऑप्शन तलाश रही है। तीनों आर्म्ड फोर्सेज के प्रमुखों को भेजे गए ऑर्डर के मुताबिक, ‘बकाये की गणना के लिए जनवरी 2016 की सैलरी को आधार बनाया जाएगा। अभी दी जा रही रकम रिवाइज्ड पे स्केल पर एरियर के फाइनल कैलकुलेशन से अजस्ट की जाएगी।’
USE YOUR ← → (ARROW) KEYS TO BROWSE

loading...
loading...
SHARE