कैलाश पर्वत पर बनी परछाई में दिखी भगवान शिव की आकृति, Social Media पर हुई वायरल

कैलाश पर्वत पर बनी परछाई में दिखी भगवान शिव की आकृति, Social Media पर हुई वायरल

ऐसा माना जाता है कि भगवान को देख पाना लगभग नामुमकिन है, पर सोशल मीडिया पर लगातार पिछले कुछ दिनों से भगवान शिव के दिखने की खबर Viral हो रही है. 2015 में किसी Youtube User ने भगवान शिव की परछाई जैसी दिखने वाली कुछ तस्वीरें को Upload किया था, तब से ये तस्वीरें Facebook, Instagram, Twitter और अन्य सोशल साइट्स पर कई बार शेयर हो चुकी हैं. इन Photos में कैलाश पर्वत पर बनने वाली परछाइयों को कैमरे के विभिन्न Angles से दिखाया गया है, जिससे ये परछाइयां भगवान शिव की आकृति प्रतीत होती हैं.

212365271

तिब्बती और बौद्ध धर्म के अनुसार:

पर्वत के पास रहने वाले तिब्बतियों का मानना है कि उनके एक संत कवि ने कैलाश की गुफाओं में वर्षों रहकर तपस्या की थी. तिब्बती बोनापाओं के अनुसार कैलाश में जो नौमंजिला स्वास्तिक दिखाई देता है, असल में वो डेमचौक और दोरजे फांग्मों का निवास स्थल है. बौद्ध धर्म के अनुयायी इस जगह को भगवान बुद्ध तथा मणिपद्मा का निवास मानते हैं. कैलाश पर्वत बौद्ध धर्मावलंबियो के लिए पूजनीय है, क्योंकि यहां उनको भगवान बुद्ध का अलौकिक रूप दिखता है. उनका यह भी मानना है कि बुद्ध का ये रूप जिसे धर्मपाल भी कहा जाता है, इसके दर्शन के बाद निर्वाण की प्राप्ति होती है.

42771006

हिन्दू धर्म की मान्यता:

हिन्दू धर्म के अनुयायिओं का ऐसा मानना है कि कैलाश पर्वत ही मेरु पर्वत है, जो ब्रह्माण्ड की धुरी माना जाता है. इसे वो भगवान शंकर का निवास-स्थान बताते हैं. साथ ही साथ उनका ये भी मानना है कि यहां देवी सती का दांया हाथ गिरा था. इसलिए वहां की एक शिला को उसका रूप मानकर उसे पूजा जाता है. YouTube पर भगवान शिव की परछाई माने जाने वाली इस तस्वीर को 11 हज़ार से ज्यादा बार शेयर किया जा चुका है, वहीं Facebook पर इसे 2 हज़ार से ज्यादा लोग लाइक और शेयर कर चुके हैं.

515043623

Source: Punjabkesari

loading...

Facebook Comments

You may also like

भारत ही नहीं इन 5 देशों में भी मनाया जाता है मकर संक्रांति

मकर संक्रांति भारतीय संस्कृति का ऐसा पर्व है,