जगन्नाथ यात्रा शुरू, 9 दिन तक ओडिशा में रहेगा उत्सव

rathyatra-6-06-1467828052

पुरी/अहमदाबाद। भगवान जगन्नाथ यात्रा का शुभारंभ बुधवार को धूम-धाम से हुई। पुरी में जहां कई लाख लोग यात्रा में शामिल हुए, वहीं अहमदाबाद में भी भारी संख्‍या में श्रद्धालु यात्रा का हिस्‍सा बने। खास बात यह है कि दोनों जगह सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये थे।

भगवान जगन्नाथ, उनके भाई बलराम और बहन सुभद्रा के रथ श्री गुंडिचा मंदिर से निकले। ढोल नगाड़े के साथ प्रारंभ हुई इस यात्रा का सिलसिला 12वीं सदी से चला आ रहा है। यह यात्रा नौ दिन की होती है जिसमें एक पड़ाव पूरा करने के बाद यात्रा वापस लौटेगी।

यह यात्रा बहुदा यात्रा के लिये 15 जुलाई को लौटेगी। इस यात्रा के कई अन्‍य नाम भी हैं, जैसे गुडिचा जात्रा, नवादिना जात्रा, दसावतारा जात्रा और घोसा जात्रा। इसमें भगवान जगन्‍नाथ के सुदर्शन चक्र को मंदिर से बाहर निकाला जाता है। और रथ पर रखकर ले जाया जाता है।

पुरी में इस साल भगवान जगन्‍नाथ के रथ नंदीघोष की ऊंचाई 45.6 फीट है, जिसमें 18 पहिये लगे हैं। जबकि बलराम के रथ तालाधवजा की ऊंचाई 45 फीट है और उसमें 16 पहिये लगे हैं। इस रथ का नाम देवादलाना है।

Loading...
इन ← → पर क्लिक करें

Loading...
loading...
शेयर करें