भारत कमायेगा खरबों डॉलर 15 से अधिक देशों को “ब्रह्मोस” निर्यात करेगा भारत

8469

भारत देश अब 15 देशों को ब्रह्मोस मिसाइल बेचने की तैयारी कर रहा है, और साथ ही जंगी जहाज बेचने की भी योजनायें बना रहा है। भारत सरकार ने ब्रह्मोस एरोस्पेस से मिसाइल मंगवाएं है। ब्रह्मोस एरोस्पेस कंपनी भारत की मिसाइल बनाने वाली कम्पनी है। भारत सरकार ब्रह्मोस एरोस्पेस से मिसाइल इसलिए मंगवा रही है, ताकि अत्याधुनिक तकनीक से बने क्रूज ब्रह्मोस मिसाइल के कामों में तेजी लाई जा सके। सबसे ज्यादा जिस देश को ब्रह्मोस मिसाइल बेचे जाने की खबर है, वह वियतनाम देश है। और ये मिसाइल चार अन्य देशों को भी बेचे जायेंगे। जिनके नाम की सूची: इंडोनेशिया, ब्राजील, साउथ अफ्रीका और चीली है।

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें
bl12_hyssm_BrahMos__835915g
भारत कमायेगा खरबों डॉलर 15 से अधिक देशों को “ब्रह्मोस” निर्यात करेगा भारत

भारत सरकार द्वारा दुसरे देशों को मिसाइल और जंगी जहाज बेचने की इस पहल को एक बहुत बड़े बदलवा के रूप में देखा जा सकता है। ब्रह्मोस की सुपरसोनिक मिसाइल को रूस और भारत ने एक साथ मिलकर तैयार किया है।

अभी तक यह माना जा रहा था कि, चीन की परेशानी की वजह से भारत वियतनाम को ब्रह्मोस नहीं बेच रहा था। लेकिन अब चीन की आवाज की गति से 3 गुना तेज और पूरी दुनियाँ में सबसे दमदार और तेज क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस को इन्स्टाबिलिटी पैदा करने वाला हथियार के रूप में देखा जा रहा है। चीन की परेशानियों के चलते ही भारत अब तक वियतनाम को हथियार देने से मना कर रहा था।

लेकिन अब हालात बदल चुके है। इसलिए भारत वियतनाम को जंगी जहाज और ब्रह्मोस मिसाइल्स भी बेचने को तैयार हो गया है। भारतीय जंगी जहाज इतने ताकतवर होते है कि, इनमें 8 – 16 ब्रह्मोस मिसाइल्स ले जा सकते है।

source: srishtanews

loading...