मोदी सरकार ने दी लोगों को राहत, अकाउंट में ढाई लाख तक जमा कराने पर नहीं लगेगा कोई टैक्स

1938

नई दिल्ली ( 10 नवंबर ) :प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 500 और 1000 के नोट बंद किए जाने के एलान के बाद लोगों के मन इन नोटों को लेकर कई सवाल उठने लगे थे। बुद्धवार को केंद्र सरकार ने लोगों के मन में उठ रहे इन सवालों का जवाब दिया और कहा कि 2.5 लाख रुपये से अधिक के नोट लौटाने पर टैक्स लागू किया जाएगा।

आकर्षक ऑफर के लिए यहाँ क्लिक करें
rupees-med
मोदी सरकार ने दी लोगों को राहत, अकाउंट में ढाई लाख तक जमा कराने पर नहीं लगेगा कोई टैक्स

अगर आप इससे अधिक की राशि जमा करते हैं और आपकी घोषित आय से यह राशि मेल नहीं खाती है तो आप को टैक्स के अलावा भी 200 पर्सेंट जुर्माना चुकाना होगा। राजस्व सचिव हसमुख अधिया ने कहा कि 10 नवंबर से 30 दिसंबर तक बैंकों में जमा किए जाने वाली पूरी राशि की जानकारी हमारे पास होगी।

अधिया ने कहा, ‘कर विभाग जमा की जाने वाली राशि का मिलान संबंधित व्यक्ति की ओर से फाइल किए जाने वाले रिटर्न से करेगा। यदि यह राशि घोषित आय से अधिक पाई जाती है तो जरूरी कार्रवाई की जाएगी।’ खाताधारक की ओर से जमा की गई राशि यदि घोषित आय से मेल नहीं खाती है तो इसे टैक्स जमा करने में धोखाधड़ी के तौर पर देखा जाएगा। अधिया ने कहा, ‘इसे टैक्स से बचने के तौर पर देखा जाएगा। ऐसी राशि पर इनकम टैक्स ऐक्ट की धारा 270 (A) के तहत कर अलावा 200 पर्सेंट जुर्माना लगाया जाएगा।’

उन्होंने कहा, ‘ऐसे लोगों को बिल्कुल भी चिंतित नहीं होना चाहिए। 1.5 या 2 लाख रुपये की राशि के नोट लौटाने पर किसी तरह की टैक्स जांच नहीं होगी। ऐसी छोटी जमा राशियों वाले लोगों को टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से किसी भी कार्रवाई के प्रति घबराना नहीं चाहिए।’ बड़े पैमाने पर कैश रखने वाले लोगों के द्वारा सोना खरीदे जाने को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि ऐसे लोगों को सोने की खरीद के दौरान पैन नंबर दिखाना होगा।

उन्होंने कहा कि हमने फील्ड ऑफिसर्स को यह सुनिश्चित करने को कहा है कि वह यह देखें कि किसी भी जूलर्स के यहां नियमों का उल्लंघन न हो रहा हो। उन्होंने कहा, ‘हम ऐसे जूलर्स के खिलाफ कार्रवाई करेंगे, जो ग्राहक के पैन नंबर की जानकारी लिए बिना उन्हें सोना बेचेंगे।’

loading...