इस जूस से सिर्फ 45 दिनों में ख़त्म होगा कैंसर, अब तक 42000 लोग हो चुके है पूरी तरह ठीक। शेयर जरूर करे

इस जूस से सिर्फ 45 दिनों में ख़त्म होगा कैंसर, अब तक 42000 लोग हो चुके है पूरी तरह ठीक। शेयर जरूर करे

Prev1 of 2Next
Use your ← → (arrow) keys to browse
इस जूस से सिर्फ 45 दिनों में ख़त्म होगा कैंसर, अब तक 42000 लोग हो चुके है पूरी तरह ठीक। शेयर जरूर करे
इस जूस से सिर्फ 45 दिनों में ख़त्म होगा कैंसर, अब तक 42000 लोग हो चुके है पूरी तरह ठीक। शेयर जरूर करे
  • इस जूस से सिर्फ 45 दिनों में ख़त्म होगा कैंसर, अब तक 42000 लोग हो चुके है पूरी तरह ठीक : इस प्रसिद्ध ऑस्ट्रियाई रस ने कैंसर और अन्य असाध्य रोगों से 42,000 से अधिक लोगों को ठीक किया है :एक विशेष भोजन की मौजूदा जो 45 दिनों के लिए रहता है का आविष्कार किया। रुडोल्फ सिफारिश की है कि सभी लोगों को सिर्फ चाय और इस सब्जी का रस पीना चाहिए।
  • इस अद्भुत घर का बना रस में मुख्य घटक चुकंदर है । उनका दावा है कि इस चक्र के दौरान , कैंसर की कोशिका मर जाते हैं।
  • नोट : सुनिश्चित करें कि आप जैविक या स्थानीय उगाई सब्जियों का उपयोग करते हैं। आप निम्नलिखित सामग्री की आवश्यकता होगी :
  1. चुकंदर (55 %),
  2. गाजर (20 %),
  3. अजवाइन रूट (20 %),
  4. आलू (3%),
  5. मूली (2 %) [इनका जूस बनाएं, अपने ड्रिंक का आनंद लें।]
  • नोट : इस जुस को जादा मात्रा में न पिये, अपने शारीरिक आवश्यकता के अनुसार ही पिये।
  • ऑस्ट्रिया के Rudolf Breuss ने कैंसर के लिए सबसे अच्छा प्राकृतिक इलाज खोजने के लिए अपना पूरा जीवन समर्पित किया है। Rudolf Breuss ने बताया के कैंसर ठोस भोजन पर ही जिंदा रहता है , कैंसर को बढ़ने से रोका जा सकता है अगर कैंसर का मरीज़ 42 दिन तक सिर्फ सब्जिओं का रस और चाय ही ले |
  • Rudolf Breuss ने एक ख़ास जूस तयार किया जिसके बहुत ही शानदार नतीजे देखने को मिले , उन्होंने इस तरीके से 45,000 से भी ज़यादा लोग जिन्हें कैंसर या कई इसी लाइलाज बीमारियाँ थी को ठीक किया | ब्रोज्स का कहना था के कैंसर सिर्फ प्रोटीन पर ही जिंदा रहता है

अगले पेज पर पढ़े – कैसे बनाये यह जूस…

Prev1 of 2Next
Use your ← → (arrow) keys to browse

loading...

Facebook Comments

You may also like

जलीकट्टू के समर्थन में सड़कों पर उतरा जनसैलाब, मरीना बीच पर प्रदर्शनकारियों ने लगाए कैम्प

तमिलनाडु के पारंपरिक खेल जल्लीकट्टू पर सुप्रीम कोर्ट