मोदी सरकार ने पकड़ा 50 हजार करोड़ का कालाधन

मोदी सरकार ने पकड़ा 50 हजार करोड़ का कालाधन : चुनाव अभियान के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने जो वादा किया था उसके अनुरूप सरकार ने पिछले दो वर्षों में कठोर कार्यवाही कर लगभग 50,000 करोड़ रूपये के अप्रत्‍यक्ष कर चोरी पकड़ी है। साथ ही सरकार ने 21,000 करोड़ रुपये की अघोषित आय का भी पता लगाने में सफलता हासिल की है।

वित्त मंत्रालय ने मंगलवार को बयान में कहा कि काले धन पर कार्रवाई से दो साल में 3,963 करोड़ रुपये के तस्करी के सामान को जब्त करने में मदद मिली है। यह इससे पिछले दो साल की अवधि की तुलना में 32 प्रतिशत अधिक है। बयान में कहा गया है कि प्रवर्तन उपायों को बढ़ाने से 50,000 करोड़ रुपये की अप्रत्यक्ष कर चोरी का पता लगाने में मदद मिली है। इसके अलावा 21,000 करोड़ रुपये की अघोषित आय का भी पता लगा है।

मोदी सरकार ने पकड़ा 50 हजार करोड़ का कालाधन
मोदी सरकार ने पकड़ा 50 हजार करोड़ का कालाधन

इसमें सरकार द्वारा देश और देश के बाहर कालेधन पर अंकुश के लिए किए गए उपायों का ब्योरा देते हुए कहा गया है कि नया कालाधन कानून कड़े जुर्माने के प्रावधान के साथ लागू किया गया है। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज एम बी शाह की अगुवाई में एक विशेष जांच टीम (एसआईटी) बनाई गई है। इसमें कहा गया है कि उसके बाद से एसआईटी की कई सिफारिशों को क्रियान्वित किया गया है। 1,466 मामलों में अभियोजन की कार्रवाई शुरू की गई है।

यह भी पढ़ें : अब किसानो की आय हो जाएगी दोगुनी, मोदी सरकार का ऐलान , मिशन मोड में मोदी सरकार : अगस्त, 2015 से 4,319 गांवों को बिजली मिली

इससे पिछले दो साल में यह आंकड़ा 1,169 रहा था। यानी इसमें 25 फीसद का इजाफा हुआ है। इसके अलावा एक नई आमदनी का खुलासा करने की योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत अघोषित संपत्ति की घोषणा करने वाले कुल कर और 45 प्रतिशत जुर्माना अदा कर पाक साफ हो सकते हैं।

बता दें की, 29 मई, 2014 को जारी अधिसूचना के तहत उच्‍चतम न्‍यायालय के न्‍यायाधीश एम. बी. शाह की अध्‍यक्षता में विशेष जांच दल का गठन किया गया था। जिसके बाद विशेष जांच दल के सिफारिशों पर कार्यवाही शुरू की गई। इस दौरान केंद्र ने घरेलू कालेधन के लिए एक नई आय घोषणा योजना की शुरूआत की। मोदी सरकार ने काला धन शोधन अधिनियम-2002 और सविदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम (फेमा) 1999 में कई अहम संशोधन किए।

Loading...
इन ← → पर क्लिक करें

loading...

Loading...
शेयर करें