100 रूपए रिश्वत मांगने पर पुलिसवालों से हुुई थी नफरत, जानिए फिर कैसे बनींं IPS

100 रूपए रिश्वत मांगने पर पुलिसवालों से हुुई थी नफरत, फिर कैसे बनींं IPS

आईपीएस गरिमा सिंह को हाल ही में झांसी जिले की कमान सौंपी गई है। महज 25 की उम्र में आईपीएस बनीं गरिमा की यह पहली पोस्टिंग है। आइए जानते हैं एक छोटे-से गांव कथौली की रहने वाली गरिमा की सक्सेस स्टोरी। पुलिस वाले ने रात में घूमने पर मांगी थी रिश्वत…

100 रूपए रिश्वत मांगने पर पुलिसवालों से हुुई थी नफरत, फिर कैसे बनींं IPS
100 रूपए रिश्वत मांगने पर पुलिसवालों से हुुई थी नफरत, फिर कैसे बनींं IPS

– बात उन दिनों की है जब गरिमा दिल्ली यूनिवर्सिटी में पढ़ाई कर रहीं थीं।

– गरिमा बताती हैं, “डीयू में पढाई के दौरान मैं एक मॉल से रात में दोस्तों के साथ होस्टल लौट रही थी। रात ज्यादा हो चुकी थी। तभी चेकिंग के लिए तैनात पुलिसवाले ने हमारा रिक्शा रोक लिया।”

– “रात में कहां से आ रही हो, कहां जाना है जैसे सवाल पूछने के बाद पुलिस वाले ने हमसे 100 रुपए मांगे। जब हमने मना किया तो मेरे पापा को फोन कर रात में घूमने की शिकायत करने की धमकी देने लगा।”

– थोड़ी बहस के बाद पुलिस वाले ने उन्हें जाने तो दिया, लेकिन इस वाक्ये ने गरिमा के मन में पुलिस के प्रति नेगेटिविटी भर दी।

NEXT पर क्लिक करके जानिए कैसा रहा शुरुआती करियर….

Loading...
इन ← → पर क्लिक करें

Loading...
loading...
शेयर करें