प्रधानमंत्री बौखला गए हैं, मेरी हत्या तक करा सकते हैं :अरविंद केजरीवाल

प्रधानमंत्री बौखला गए हैं, मेरी हत्या तक करा सकते हैं :अरविंद केजरीवाल

प्रधानमंत्री बौखला गए हैं, मेरी हत्या तक करा सकते हैं :अरविंद केजरीवाल : आम आदमी पार्टी के विधायकों की एक के बाद एक हो रही गिरफ्तारी पर दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने केंद्र की मोदी सरकार पर जबरदस्त तरीके से हमला करते हुए मोदी सरकार से अपनी जान को खतरा बताया है। केजरीवाल ने विधायकों के खिलाफ ‘दमन के इस चक्र’ के लिए मोदी को ‘मास्टरमाइंड’ करार दिया और कहा कि वह पार्टी का सफाया करने पर तुले हैं।

यू-ट्यूब पर डाले गए 10 मिनट के एक वीडियो संदेश में केजरीवाल ने कहा, ‘वह (पीएम मोदी) किसी भी हद तक जा सकते हैं, हमें मरवा सकते हैं। वह मुझे भी मरवा सकते हैं। आप लोग अपने परिवार से बात कीजिये और देखिए कि क्या आप लोग कुर्बानी देने के लिए तैयार हैं। सभी विधायकों को जेल जाना होगा। अगर आप तैयार हैं तो हमारे साथ रूकिए और अगर आपमें कमजोरी है तो छोड़ दीजिए।’

प्रधानमंत्री बौखला गए हैं, मेरी हत्या तक करा सकते हैं :अरविंद केजरीवाल
प्रधानमंत्री बौखला गए हैं, मेरी हत्या तक करा सकते हैं :अरविंद केजरीवाल

अतीत में मोदी को मनोरोगी और कायर कहने वाले केजरीवाल ने कहा, ‘मेरे लिए चिंता की सबसे बड़ी वजह यह है कि अगर देश का प्रधानमंत्री गुस्से में आकर फैसले करने लगेगा तो देश खतरे में पड़ जाएगा। कौन जाने कि वह बहुत सारे दूसरे फैसले भी इसी तरह कर रहे हों। महत्वपूर्ण सवाल यह है कि क्या देश सुरक्षित हाथों में है या नहीं? महत्वपूर्ण चीज हमारे विधायकों की गिरफ्तारी नहीं है। महत्वपूर्ण चीज यह है कि क्या देश सुरक्षित हाथों में है?’

केजरीवाल ने कहा, ‘आप लेग आम आदमी पार्टी को कुचलने के प्रयासों को देख चुके होंगे। 10 विधायकों को गिरफ्तार किया गया है, एक विधायक पर आयकर विभाग की छापेमारी हुई है और लाभ के पद के फर्जी आरोपों में 21 विधायकों को अयोग्य ठहराने के प्रयास किये जा रहे हैं। यह दमन चक्र जैसा है। मुझे हैरानी हो रही है कि ये सब क्यों हो रहा है। लोग सवाल करते हैं कि मैं मोदी जी को जिम्मेदार ठहराता हूं। मैं जानना चाहता हूं कि सीबीआई, आयकर की छापेमारी के पीछे का मास्टरमाइंड कौन है। इनके पीछे का मास्टरमाइंड कोई तो है। मास्टरमाइंड कौन है?’

MUST READ : केजरीवाल सरकार का एक और बड़ा घोटाला, मुश्किलों में घिरती जा रही है सरकार

आप संयोजक ने कहा, ‘अमित शाह, मोदी जी, पीएमओ। सभी साथ हैं। मोदी जी के उकसावे पर अमित शाह यह सब कर रहे हैं, लेकिन यह एक स्रोत से हो रहा है।’ अंदरूनी लोग बताते हैं कि मोदी जी हमसे बहुत नाराज हैं और वह इस बारे में तार्किक ढंग से नहीं सोच रहे हैं। क्योंकि रोजाना की गिरफ्तारी का कोई मतलब नहीं बनता। खासकर जब इन सभी को कुछ दिनों के भीतर जमानत मिल जाती है और वे कुछ भी साबित नहीं कर सके।’

केजरीवाल ने कहा, ‘वह (मोदी जी) हमारे साथ अपने दिमाग का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं। कुछ लोग कहते हैं कि वह दिल्ली में अच्छे काम को पचा नहीं पा रहे। कुछ और लोगों का कहना है कि दिल्ली में हार को पचा नहीं पा रहे, बाकी लोगों का कहना है कि यह सब पंजाब, गोवा और गुजरात में हमें मिल रहे समर्थन की वजह से हो रहा है।’ उन्होंने कहा कि मोदी ने विरोधियों को कुचलने का रास्ता अपनाया है क्योंकि भाजपा अपना एक भी चुनावी वादा पूरा करने में सफल नहीं हुई है और समाज के कई तबके गुस्से में हैं।

MUST READ : पीएम पर हमला बोलते हैं केजरीवाल तो AAP के खाते में बढ़ने लगती है रकम

आप संयोजक ने दावा किया कि मोदी ‘बौखलाहट में’ हैं क्योकि वह अपनी सरकारी मशीनरी पीछे लगाने के बावजूद आप के साहस को कुचलने में नाकाम रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘उन्होंने आप के पीछे एसीबी, पुलिस, सीबीआई और आयकर को लगा रखा है। परंतु वह हमारे साहस को नहीं कुचल पाए। हमने झुकने से मना कर दिया। इसलिए वह बौखलाहट में हैं और नहीं समझ पा रहे हैं कि उनको क्या करना है।’

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा, ‘सत्ता हासिल करने के दो रास्ते हैं। एक रास्ता हमारी तरह अच्छा काम करने का है। परंतु भाजपा और मोदीजी सभी मोचरें पर नाकाम रहे हैं। दलितों, अल्पसंख्यकों, किसानों, ज्वेलर और युवा सहित समाज के सभी वर्ग नाराज हैं। सत्ता पाने का दूसरा रास्ता अपने विरोधियों को कुचलना है। वह यही कर रहे हैं। उन्होंने सभी दलों को कुचल दिया है। क्या आपने कभी कांग्रेस को आवाज उठाते हुए देखा? या किसी दूसरी पार्टी को देखा? दलितों को कुचला जा रहा है। रोहित वेमुला को कुचल दिया गया। युवाओं को कुचल दिया गया है।’ केजरीवाल ने कहा कि नेपाल और पाकिस्तान जैसे पड़ोसियों के साथ भारत के ‘खराब’ रिश्ते भी मोदी के असंगत तौर तरीके के कारण है।

देखिए! यूट्यूब पर अरविंद केजरीवाल का वीडियो संदेश…

प्रधानमंत्री बौखला गए हैं, मेरी हत्या तक करा सकते हैं :अरविंद केजरीवाल

loading...

Facebook Comments

You may also like

विश्व पुस्तक मेले का आयोजन 7 जनवरी से दिल्ली में

  नई दिल्ली। बहुप्रतीक्षित विश्व पुस्तक मेले का आयोजन